पत्थरबाजों को सेना की फाइनल चेतावनी- एनकाउंटर साइट पर आए तो भुगतोगे

पत्थरबाजों को फाइनल चेतावनी

उन्होंने जम्मू-कश्मीर की महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि वह अपने बच्चों को समझाएं और उन्हें सरेंडर करने को कहें. उन्होंने कहा कि सेना के पास सरेंडर पॉलिसी है, अब अगर जो भी सेना के खिलाफ बंदूक उठाएगा वो मारा जाएगा. उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते हैं कि कोई भी नागरिक घायल हुए. सेना के अफसरों ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे ISI का हाथ था, उनकी मदद से ही जैश ने हमला किया था.

‘जैश पाकिस्तान का बच्चा’

लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिल्लन ने जम्मू-कश्मीर के पत्थरबाजों से अपील करते हुए कहा कि कोई भी नागरिक मुठभेड़ की जगह पर ना आए, ना ही मुठभेड़ के दौरान और ना ही बाद में. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसा होता है तो उन्हें भी एक्शन लेना होगा.

उन्होंने कहा कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तान का बच्चा है, यहां कितने गाजी आए और कितने चले गए. पाकिस्तानी सेना और ISI जैश-ए-मोहम्मद को कंट्रोल कर रही है. पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड कामरान ही था, जिसे मार गिराया गया है.

admin