बीजेपी का आरोप- सिंधिया स्कूल को मुफ्त में दी गई जमीन, कांग्रेस बोली- पहले की है

मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वामित्व वाले स्कूल को जमीन मुफ्त में दी गई थी. इसका जवाब मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री पीएस तोमर ने दिया है. तोमर ने कहा कि सिंधिया का स्कूल वहां पर मेरे जन्म लेने से भी पहले का है.
भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर सिंधिया स्कूल को मुफ्त में जमीन देने का सनसनीखेज आरोप लगाया है, जिस पर मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने सफाई दी है. मध्य प्रदेश बीजेपी का आरोप है कि सूबे की कांग्रेस सरकार ने सिंधिया स्कूल को मुफ्त में जमीन दी है.

बीजेपी के आरोप का जवाब देते हुए मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री पीएस तोमर ने कहा, ‘सिंधिया स्कूल मेरे जन्म लेने से भी पहले का है. बीजेपी लोगों को गुमराह कर रही है. नई जमीन नहीं आवंटित की गई है. जमीन का सिर्फ नवीकरण किया गया था. गरीब बच्चे भी उस स्कूल में पढ़ते हैं.आपको बता देें कि सिंधिया स्कूल का स्वामित्व सिंधिया परिवार के पास है. सिंधिया स्कूल के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं. इस स्कूल की स्थापना साल 1897 में हुई थी. आपको बता दें कि सिंधिया स्कूल को मुफ्त में जमीन देने का आरोप उस समय लगा है, जब कांग्रेस में नेतृत्व का संकट गहराया हुआ.

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद से राहुल गांधी ने इस्तीफा दे दिया है. उनके इस्तीफे के बाद कांग्रेस में कई नेताओं ने भी इस्तीफा दे दिया. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कांग्रेस पार्टी के महासचिव पद से इस्तीफा दे दिया है. उनको लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस महासचिव बनाया गया था. उनको पश्चिम उत्तर प्रदेश कांग्रेस का प्रभार भी सौंपा गया था.

admin