पाकिस्तान / इस्लामाबाद की सड़क पर दिखे अखंड भारत के पोस्टर्स, जिन पर लिखा था ‘महाभारत- एक कदम आगे’

इंटरनेशनल डेस्क. कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म होने के अगले दिन पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में खास तरह के बैनर्स दिखाई दिए, जिन पर ‘महाभारत- एक कदम आगे’ लिखा हुआ था, साथ ही भारतीय समाचार एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट भी छपा हुआ था, जिसमें शिवसेना सांसद संजय राउत संसद को संबोधित करते दिख रहे थे। दरअसल ये तस्वीर एक दिन पहले राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के प्रस्ताव पर हो रही चर्चा के दौरान की थी। इस्लामाबाद की सड़कों पर इन फ्लैक्सेस को लगा देखकर साजिद नाम के शख्स ने उनका वीडियो बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। इसके बाद कई पाकिस्तानी लोगों ने इस वीडियो को अपने हैंडल पर शेयर किया। बाद में पुलिस ने वो सारे पोस्टर्स हटा लिए।

बैनरों पर लिखा था, ‘अखंड भारत, रियल टेरर’

इस्लामाबाद की सड़कों पर लगे उन बैनरों पर लिखा था, महा-भारत, एक कदम आगे। इसके अलावा उसमें ANI के ट्वीट का स्क्रीन शॉट भी लगा था, जिसमें लिखा था शिवसेना सांसद संजय राउत को कोट (उद्धृत) करते हुए लिखा था, ‘आज जम्मू और कश्मीर लिया है, कल बलूचिस्तान, पीओके लेंगे। मुझे विश्वास है देश के पीएम अखंड हिंदुस्तान का सपना पूरा करेंगे।’ ये बात उन्होंने सोमवार को राज्यसभा में अनुच्छेद 370 हटने को लेकर हुई चर्चा के दौरान कही थी।

इस बैनर पर सबसे ऊपर अखंड भारत का जो नक्शा बना था, उसमें पाकिस्तान और बांग्लादेश के अलावा अफगानिस्तान, तिब्बत, नेपाल और म्यांमार भी भारत की सीमाओं में दिख रहे थे और सब भगवा रंग में रंगे हुए थे। इस नक्शे के बीच में संघ का गणवेश पहने एक व्यक्ति भी दिख रहा था। वहीं नक्शे के आसपास लिखा हुआ था, ‘अखंड भारत, रियल टेरर’। हालांकि बाद में पुलिस ने इन सारे बैनर्स को हटा लिया लेकिन तब तक उनका वीडियो वायरल हो चुका था।

शख्स बोला- हम कहां जा रहे हैं?

इस वीडियो को बनाने वाले साजिद नाम के शख्स ने इसले बनाते हुए बैनर पर लिखी हर बात को पढ़ा और फिर आगे कहा, ‘मुझे नहीं समझ आ रहा कि एक देश के रूप में हम कहां जा रहे हैं, हमारे मुल्क में हमारे ही शहर में, हमारी ही आंखों के सामने इंडिया वाले अपने पोस्टर्स लगा रहे हैं, लेकिन हम लोग सो रहे हैं। अब मैं ये देख रहा हूं कि जहां मेरी नजर तक जा रही है, ये पोस्टर्स वहां तक लगे हुए हैं। आप लोग भी देख सकते हैं कि किस तरह F-6 पर ये पोस्टर्स यहां लगे हुए हैं। मुझे ये समझ नहीं आ रहा है कि हम लोग मुल्क में हम सिर्फ रह रहे हैं, हमारा कुछ फर्ज नहीं बनता। इंडिया इस्लामाबाद में आके पोस्टर्स लगा रहे हैं, मेरा सबसे सवाल है कि क्या हम दिल्ली या मुंबई जाकर ये पोस्टर्स लगा सकते हैं। खैर हमारे यहां इमरान खान साहब, नवाज शरीफ साहब या हमारी आर्मी ने ये कहा है या वो ये चाहती है। नहीं हम कभी नहीं कर सकते। तो अगर हम नहीं कर सकते तो कम से कम उन लोगों को नहीं करने दें ना। हम सिर्फ वो कौम रह गए हैं जो सिर्फ और सिर्फ सोशल मीडिया पर लड़ सकते हैं।’

एकदिन पहले हटा था अनुच्छेद 370

इस घटना से एकदिन पहले सोमवार सुबह कैबिनेट की बैठक के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद में बदलाव के फैसलों की जानकारी राज्यसभा में दी। इसी के साथ अनुच्छेद 35ए भी खत्म हो गया। यानी अब कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक संविधान और एक राष्ट्रीयध्वज होगा। शाह ने दूसरा बड़ा बिल जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने का पेश किया। राज्यसभा में इसके पक्ष में 125, जबकि विरोध में 61 वोट पड़े थे। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने बिल का विरोध किया, जबकि बसपा जैसे विरोधी दल समर्थन में रहे।

admin