मानसून / रायसेन में नदी के तेज बहाव में बही महिला; चप्पलों से हुई शिनाख्त, 9 जिलों में अति बारिश का अलर्ट

भोपाल/रायसेन. रायसेन जिले के बेगमगंज स्थित एक नदी के तेज बहाव में बुधवार को एक महिला बह गयी, जिसका अब तक पता नहीं चल सका, उसकी खोजबीन जारी है। पुलिस के मुताबिक, रजनी कुशवाहा नाम की महिला घर से किसी पड़ोसी के घर जाने को कह कर निकली थी। महिला की चप्पल और छाता बेगमगंज के समीप स्थित एक नदी के किनारे मिला है, जिससे संभावना जताई जा रही है कि महिला नदी के तेज बहाव में बह गयी है।
महिला के परिजन और पुलिस की गोताखोर टीम महिला को ढूंढ रही है, लेकिन अब तक महिला का कुछ पता नहीं चला है। परिजनों का कहना है कि महिला मानसिक रुप से कमजोर थी, ऐसी संभावना है कि वह किसी काम से नदी किनारे गई होगी। और उसका पैर फिसलने से वह नदी में बह गयी।

इधर, देवरी थाला दिखावन मार्ग पर रोहिया नाले में रोणा गांव के निवासी भीकम सिंह लोधी ट्रैक्टर धोते समय तेज बहाव वाले नाले में गिर गया है। फिलहाल भीकम सिंह लोधी और ड्राइवर जान में जोखिम में डालकर निकाल रहे हैं।

इधर, भोपाल में बुधवार को दोपहर के बाद शाम को जोरदार बारिश हुई। हालांकि रुक-रुककर बारिश का दौर जारी है। इससे भोपाल के बड़े तालाब का जलस्तर भी बढ़ा है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि 7 से 10 अगस्त के बीच उज्जैन, भोपाल, इंदौर, जबलपुर और होशंगाबाद संभागों में भारी बारिश होने की संभावना है। इनमें से कुछ स्थानों में बहुत ज्यादा बारिश भी हो सकती है। वहीं, मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि आगामी 24 घंटों में राज्य के 21 जिलों में भारी बारिश हो सकती है।

ये जिले हैं, जहां भारी बारिश की संभावना : शिवपुरी, दतिया, श्योपुरकलां, सागर, दमोह, छतरपुर, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर, डिंडोरी, हरदा, होशंगाबाद, खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर, देवास, रायसेन, सीहोर और विदिशा जिले शामिल हैं, जहां पर भारी बारिश होने की संभावना है। वहीं बैतूल, रायसेन, सीहोर, सागर, बालाघाट, मंडला, छिंदवाड़ा, मंदसौर और विदिशा में अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

बड़े तालाब का लेवल 1.10 फीट बढ़ा
प्रदेश में मानसून की तीव्रता फिर बढ़ गई है। मंगलवार को भोपाल में सुबह 7:30 से 8:00 बजे तक आधा घंटे में ही 2 इंच से ज्यादा पानी बरस गया। कैचमेंट एरिया में भी बारिश हुई। इस वजह से बड़े तालाब के लेवल में 1.10 फीट का इजाफा हुआ। अब इसका जल स्तर 1664.00 फीट पर पहुंच गया है। फुल टैंक लेवल होने के लिए अब सिर्फ 2.80 फीट पानी की ही जरूरत है। उधर बीते 24 घंटे में प्रदेश के 50 शहरों में बारिश हुई।

सीहोर में 3 दिन में भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग ने बुधवार से फिर तीन दिन तक सीहोर में भारी बारिश की चेतावनी दी है। बारिश से बने हालात और मौसम विभाग की चेतावनी के बाद कलेक्टर ने भी सभी अधिकारियों को मुख्यालय पर रहने के निर्देश जारी किए हैं। छुट्‌टी के दिन भी इन अधिकारियों को मुख्यालय पर रहना होगा। बता दें कि अब तक जिले में 67.6 सेमी बारिश रिकार्ड हो चुकी है। पिछले साल अब तक जिले में 62.5 सेमी बारिश दर्ज हुई थी।

ऐसे में मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए अगले तीन दिन में भारी बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग की मानें तो अगले तीन दिन में जिले में 4 इंच से अधिक बारिश हो सकती है। कलेक्टर अजय गुप्ता ने जिले के सभी ‍विभाग प्रमुखों को निर्देश दिए हैं कि जिले में अतिवर्षा-बाढ़ की स्थिति को देखते हुए सभी अधिकारी 12 अगस्त तक के सार्वजनिक अवकाश के दिनों में भी मुख्यालय पर ही रहेंगे।

jmradmin