खुफिया एजेंसी की जानकारी के मुताबिक, मानसेहरा के अल बदर ट्रेनिंग कैंप में आतंकियों को एके 47, पीआईकेए, एलएमजी, रॉकेट लांचर, यूबीजीएल और हैंड ग्रेनेड चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है.

पाकिस्तान एक बार फिर आतंकी हमले की बड़ी साजिश रच रहा है. पाकिस्तान ने अल-बदर के 45 फिदायीन आतंकियों के जरिए कश्मीर में हिंसा फैलाने का प्लान बनाया है. इसके लिए खैबर पख्तूनख्वा में पाकिस्तानी सेना ने आतंकी भर्ती शिविर खोल रखे हैं. ‘आजतक’ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, इस बार पाकिस्तानी आर्मी खैबर पख्तूनख्वा के ट्रेनिंग कैंप में अल बदर के 45 फिदायीन आतंकियों को ट्रेनिंग दिलवा रही है. खैबर पख्तूनख्वा वही जगह है जहां भारत ने बालाकोट हवाई हमला (एयर स्ट्राइक) किया था.

खैबर पख्तूनख्वा के इस कैंप में जैश की जगह उससे जुड़े आतंकी संगठन अल बदर को ट्रेनिंग दी जा रही है. फिदायीन आतंकियों को टेक्टिकल ट्रेनिंग खुद अल बदर का मुखिया बख्त जरीन दे रहा है. साथ ही अल बदर के इन आतंकियों को हथियार चलाने के साथ जीपीएस ट्रैकिंग और मैप रीडिंग की भी ट्रेनिंग दी जा रही है.

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, मानसेहरा के अल बदर ट्रेनिंग कैंप में आतंकियों को एके 47, पीआईकेए, एलएमजी, रॉकेट लांचर, यूबीजीएल और हैंड ग्रेनेड चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है. यही नहीं, अल बदर के आतंकियों को यहां जंगल में रहने, गोरिल्ला युद्ध, जंगल वॉरफेयर, कॉम्युनिकेशन, इंटरनेट और जीपीएस मैप की ट्रेनिंग भी दी जा रही है.

jmradmin