कोरोना से पस्त पाकिस्तान, आर्थिक तंगी की वजह से दे रहा लॉकडाउन में छूट

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के 27,474 केस हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, एक दिन में 1637 नए मामले आए हैं और 24 लोगों की मौत हुई है. पाकिस्तान में अब तक 618 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है. इन सबके बावजूद आर्थिक तंगी से जूझ रहा पाकिस्तान लॉकडाउन में छूट दे रहा है.
पाकिस्तान में कोरोनो वायरस के मामले तेजी से बढ़ने के बावजूद शनिवार से लॉकडाउन में छूट देने की शुरुआत हो गई. यहां पर कोरोना वायरस के 27,474 केस हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, एक दिन में 1637 नए मामले आए हैं और 24 लोगों की मौत हुई है. पाकिस्तान में अब तक 618 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है.

प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को आर्थिक संकट का हवाला देते हुए कहा था कि लॉकडाउन में धीरे-धीरे छूट दी जाएगी. शनिवार से विभिन्न व्यवसायों को खोलने की अनुमति दे दी गई थी. बता दें कि कोरोना से निपटने के लिए पाकिस्तान में मार्च के आखिरी हफ्ते से लॉकडाउन लागू है.
इमरान खान की दलील है कि लॉकडाउन पाकिस्तान में लागू रहा तो वायरस से बड़ी तबाही मचाएगा, क्योंकि सरकार के पास पैसे नहीं हैं. इमरान ने कहा कि लॉकडाउन में हालात ठीक नहीं है. सरकार तो पहले ही बहुत मुश्किल से चल रही थी, हम तो सबको पैसे नहीं दे सकते. उन्होंने कहा कि तुलना करें हिंदुस्तान से जिसके हालात हमसे बेहतर थे, हमने तो बहुत ज्यादा पैसा दिया हुआ है, लेकिन हम कितनी देर तक पैसे दे सकते हैं.

‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने इमरान खान के हवाले से कहा कि संघीय सरकार लोगों को अधिकतम राहत देने की कोशिश कर रही है, लेकिन देश के मौजूदा आर्थिक हालातों को देखते हुए लॉकडाउन में अनिवार्य रूप से रियायत दी जानी चाहिए.
सिंध के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह और खैबर-पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री के सलाहकार अजमल वजीर ने कहा कि प्रांतीय सरकार भी इस योजना पर इमरान खान से सहमति रखती हैं.
खैबर पख्तूनख्वा सरकार ने शुक्रवार को 21 मार्च को लागू किए गए लॉकडाउन में ढील की घोषणा की थी. इसके मुताबिक, दुकानें और कुछ चुनिंदा कारोबार हफ्ते में चार दिन खुलेंगे और सभी प्रतिष्ठानों को शाम चार बजे बंद कर दिया जाएगा. मौलवियों के सरकारी दिशानिर्देशों और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने पर सहमति जताने के बाद सरकार ने रमजान के दौरान मस्जिदों में नमाज अदा करने की इजाजत भी दे दी है.

jmrtvlive